TISA

tisa जीवन है, सबल है ,शक्ति है

tisa हकलाने वालो के विकास की अभिब्यिकटी है
tisa हकलाने वाले बच्चो का सहारा है
tisa कभी कुछ खट्टा है, कभी कुछ खारा है
tisa उम्मीद है, विश्वास है,अनुशासन है
tisa धौस से चलने वाला प्रेम का प्रशासन है
tisa bouncing ,prolongation, volunterring stuttering है
tisa mediation है tisa focus on breathing hai है
tisa हकलाने वाले परिंदे का बड़ा असमान है
tisa अप्रद्रशित अनंत प्यार है
tisa है तो हकलाने वालो का इंतजार है
tisa से ही हकलाने वालो के ढेर सारे सपने है
tisa है तो दुनिया के सभी सपने अपने है
tisa से जिन्दगी में प्रतिपल राग है
tisa से ही हकलाना मैनेजे कर पाने का विश्वास है
tisa परमात्मा की हकलाने वालो के प्रति आसक्ति है
tisa अंधकारमय जीवन में उच्च स्थिति की भक्ति है
tisa इच्छाओ की पूर्ति और अपने अनुभव की अबिभाय्क्ति है
tisa workshop और shg में दिए संस्कारो की मूर्ति है
tisa एक जीवन को जीवन का दान है
tisa दुनिया में आत्मनिर्भर बनाने का एहशान है
tisa सुरक्षा है ,सिर पे हाथ है
tisa नही तो हकलाने वाले अनाथ है
तो tisa के बताये कदम पे चलकर अपना नाम करो
shg के थ्रू लोगो से मिलकर अपने उपर एहशान करो
क्योकि tisa और shg की कमी कोई पाट नही सकता
इग्नोर करने वाले भी इनके अशिशो को काट नही सकते
दुनिया में किसी भी काम का स्थान दूजा है
बिना प्रभावित हुए अपनी बात ससक्त ढंग से रखना ही सबसे बड़ी पूजा है
विश्व में किसी भी स्पीच थेरिपिस्ट के यहा जाना ब्यर्थ है
यदि घर पे या बाहर practice करने में असमर्थ है
वो kushnasib है हकलाने वाले tisa ,shg जिनके साथ है
क्योकि tisa की अशीशो के हजारो हाथ है!
THANK U…..ALL THE BEST..
Share at:

Post Author: Harish Usgaonker

12 thoughts on “TISA

    ashish

    (August 23, 2011 - 5:35 am)

    best xpression of thought… raelly superlike for soo deepness . highly i mpressed.. keep it up

    admin

    (August 23, 2011 - 11:40 am)

    great!!!!! no words to explain. Aap tisa k naye kavi ho…

    admin

    (August 23, 2011 - 12:02 pm)

    aji ap bhi to kuch kam nhi..apne bhi to update kiya tha maine jina sikh liya…….. thanks

    admin

    (August 23, 2011 - 12:20 pm)

    GOOD Abhishak ……….nice poem

    Sachin

    (August 23, 2011 - 12:34 pm)

    Beautiful. Keep expressing yourself like this. I just want to say one thing: TISA appreciates the good work of those therapists, who provide tried and tested services to stammerers, charge a reasonable fee and dont mislead them through unethical advertising.. If a pws finds such SLPs, they should go to them- and for follow up, he should join a SHG..

    admin

    (August 23, 2011 - 2:49 pm)

    To accept stammering means to accept your life as it is…..& to accept your life means to love your life…….& such creativity helps us in loving our lives & our selves……..so keep it up abhishek 🙂

    Also, i would like request you to check if you meant 'meditation. in 8th line instead of 'mediation'

    admin

    (August 23, 2011 - 3:08 pm)

    thanks ashish, lalit sir,sachin sir , ashish sir, and umesh sir..

    admin

    (August 23, 2011 - 3:14 pm)

    abhishek…..what a beautiful poetry…..and deep from heart..every single word is worthwhile,….god bless u

    admin

    (August 24, 2011 - 9:13 am)

    thank u anoopinder ji…..how r u?

    Anonymous

    (August 24, 2011 - 2:15 pm)

    excellent expression, superb…..kshitiz

    admin

    (August 25, 2011 - 12:46 pm)

    thanku ksitiz sir……..

    admin

    (August 25, 2011 - 2:04 pm)

    Awesome 🙂

Comments are closed.