पिंक सिटी जयपुर SHG मीटिंग रिपोर्ट 27/09/2015

यह रविवार भी एक सा-सा-साधारण दिन की तरह था। रविवार को मैं सुबह ही बाहर निकल जाता हूँ क्योंकि कुछ जरूरी कार्य रविवार को ही होते हैं। यह आपको कुछ अजीब लगेगा लेकिन मैं केवल र-रविवार को ही व्यस्त रहता हूँ।

मैं 3 बजकर 30 मिनट पर सेंट्रल पार्क, जयपुर पहुंचा। रस्ते मैं मुझे जयपुर SHG का मेंबर सु-सुनील मिला। वह किसी जरूरी कार्य से जा रहा था लेकिन मैंने उसे बताया कि मैं मीटिंग में जा रहा हूँ। लगभग 4 बजकर 15 मिनट च-च-चन्द्रप्रकाश और अखिलेश भी पहुंच गये। अखिलेश की यह दूसरी मीटिंग थी।  

4:30 पर मीटिंग प्रारम्भ हुई। हमेशा की तरह पहला रा-रा-राउंड introduction का था।  मेरी अखिलेश के साथ पहली मुलाकात थी तो पहले से ही लग रहा था कि मुझे बहुत मजा आने वाला है। अतः हमने life experience sharing राउंड रखा। इसमें चन्द्रप्रकाश और अखिलेश ने  अपना जन्म से लेकर MBBS तक का सफर बताया। इसमें उन्होंने हकलाने से जुड़े कुछ की-की-कीमती पलों के बारे में भी बताया और इसमें सुधार के लिये उठाये गए कदमों के बारे में बताया। मुझे तो ऐसा लग रहा था कि मैं  इन दोनों को ही सुनता रहूँ।

फिर हमने  last week experience sharing राउंड रखा। जैसा कि मैंने पिछली रिपोर्ट में बताया था कि चन्द्रप्रकाश जी घर पर गये हुए थे तो मुझे लग रहा था कि कुछ न कुछ जरूर सुनने को मिलेगा। मैं सही था चन्द्रप्रकाश जी ने रा-रा-रा-राजस्थान राज्य के जैसलमेर जिले के बहुत प्रसिद्ध मेला “रामदेवरा” की अपनी लगभग 225 किलोमीटर की पैदल यात्रा के बारे में बताया।

अखिलेश नया मेम्बर होने के कारण हमने उसकी कुछ सहायता करने की सोची।  इसके अन्तर्गत चन्द्रप्रकाश ने उन्हें बा-बा-बा-बाउंसिंग , पsssssरोलोंगेसन आदि सभी तकनीकों के बारे में बताया। फिर मैंने और चन्द्रप्रकाश ने मिलकर कम्युनिकेशन स्किल्स के बारे में कुछ विचार आपस में शेयर करे। अखिलेश से मिलकर ऐसा नहीं लगा कि पहली बार हम लोग मिल रहे हैं।

शाम के 6  बजकर 30 मिनट हो चुके थे। कुछ अँधेरा भी होने लगा था तो हमने मीटिंग को समाप्त करने की सोची। अगली मीटिंग में आने व थोड़ा जल्दी आने का विचार करके अपने-अपने गंतव्य की ओर निकल गये।

धन्यवाद !

ज-ज-जयपुर SHG से जुड़ें और अपने अ-अ-अनुभव बांटें :-
रवि कांत शर्मा           +91 7738806447
चन्द्रप्रकाश गोयल      +91 8239715445
अनुराग तेतरवाल (मैं) +91 7568377078  anuragtetarwal@gmail.com

2 Comments

Comments are closed.

  1. admin 4 years ago

    बहुत बढ़िया अनुराग…ऐसे हे मिलते रहे और अपने अनुभव साझा करते रहे।
    साथ ही टेक्निक्स का अभ्यास करते रहे:)

  2. Sachin 4 years ago

    बहुत ख़ुशी है कि रवि की गैर मौजूदगी में भी समूह चल रहा है – आप लोग मिल रहे हैं, सुन रहे है, सुना रहे हैं.. बहुत सुन्दर..

CONTACT US

We're not around right now. But you can send us an email and we'll get back to you, asap.

Sending

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account