जीवन को आनंद के साथ जियें

प्रिय दोस्तों नमस्कार ,

सुशांत सिंह राजपूत की खबर हर तरफ मीडिया में है और होनी भी चाहिए क्योकि सुशांत एक बहुत अच्छे इंसान और कलाकार थे |

उनको और उनकी फिल्मो के बारे में बहुत नहीं जानता हूँ लेकिन दो मूवीज मैंने उनकी देखी है पहली एम .एस .धोनी और दूसरी पि.के., दोनों मूवीज लाजवाब थी | मन को अच्छा नहीं लगा | लेकिन किसी को जाने बिना और उनकी परिस्तिथि को समझे बिना कमेंट करना ठीक नहीं | हा , सुशांत सिंह राजपूत हमेशा अपने किये हुए फिल्मो से और कामो से हमे प्रेरणा देंगे |

कुछ बातें आपसे शेयर करना चाहता हु –

१. ठीक है , आप हर बार अच्छा महसूस नहीं करे , लेकिन किसी अपने को जरूर बताइये।

२. ठीक है , आप हर बार मोटीवेट नहीं रहे , लेकिन कुछ अपने पसंद का काम जरूर करे |

३. ठीक है , आप हर बार एनर्जेटिक नहीं रहे , वैसे भी हम मशीन नहीं है | लेकिन कुछ आदते आपको एनर्जेटिक रहने में मदत करेगी |

४. ठीक है , हर कोई आपको ऐक्सेप्ट नहीं करता , वैसे भी आप देखोगे आप जिनको सबसे ज्यादा खुश करना चाहते है वो आपके जीवन में उनकी बहुत कम या ना के बराबर वैल्यू है |

५. ठीक है सब लोग नहीं खुश हो पाते आप से , और खुश करने की कोशिश भी मत कीजिये क्योकि हो सकता है – इस प्रोसेस में आप दुखी हो जाये |

६. ठीक है , सफलता हर बार हमे नहीं मिलती , और हम अपने आप की तुलना करना शुरू करते है , अगर तुलना करना चाहते है , अपने आप से तुलना कीजिये , जैसे आप कहा से आये और जीवन में कितना आगे तक बढे है |

७. ठीक है , पैसा जितना चाहते है उतना अभी नहीं है लेकिन क्या ऐसा हमेशा रहेगा ?? अपने आप से पूछिए , उत्तर आएगा ‘नहीं’, सो फिर चिंता क्यों | यह दिन भी निकल जायेगे | लेकिन मेरा ऐसा मानना है मेहनत ईमानदारी से कीजिये |

८. ठीक है , आप बहुत कामो में अच्छे नहीं होंगे लेकिन क्या कोई ऐसा काम है जिसमे आप ने अपना पूरा जीवन लगा दिया | सफलता और असफलता दोनों लोगो पर छोड़ दे निश्चय करने के लिए | आप बस अपने पसंद का काम करते जाये और आनंद ले क्योकि आप अपना मनचाहा काम कर रहे है |

९. ठीक है हममे कोई न कोई कमी जरूर होगी , होनी भी चाहिए क्योकि वो कमी ही आपको पूरा करती है | उस कमी को और अपनी हर कमजोरियों को गले लगाइये क्योकि उसी से आप बने है और उसी से आपकी पहचान है |

१०. ठीक है , अगर मै पूरा -१००% नहीं हु तो सामने वाले से १००% की कैसे आशा कर सकता हु | लोगो को जज करना छोड़िये और उन्हें पूरी तरह से हा पूरी तरह से एक्सेप्ट कीजिये क्योकि हर व्यक्ति अपनी लड़ाई लड़ रहा है | सुनिए और लोगो को समझिये |

कोई भी इस दुनिया में परफेक्ट नहीं है और उस दिखावे में भी ना पड़े ,हर एक में जी हा हर एक में कुछ न कुछ कमी है और हर एक के अपने अपने challenges है , इस्सके साथ साथ हर एक में आपको बहुत कुछ अच्छा भी मिलेगा | सो जरुरत है दुनिया में खूबसूरती देखने की , लोगो की यूनिक बातें देखने की और सिखने की |

गलतिया कीजिये , खूब गलतिया कीजिये और हर बार हर अपनी गलती से कुछ सीखिए और आगे बढिये बस यही आशा करता हु |

मै भी आपके ही जैसे खूब सारी गलतिया करता हु ,सीखता हु और आगे बढ़ते रहता हु क्योकि ‘जीना इसी का नाम है’ |

आईये जीवन को आंनद के साथ जीना सीखते है और अपने आप को पूरी तरह , हा पूरी तरह एक्सेप्ट करते है और प्यार करते है |

खुशनुमा विचारो के साथ ,

~ मनीष उपाध्याय,

(Nagpur)

Share at:

Post Author: Amitsingh Kushwaha

1 thought on “जीवन को आनंद के साथ जियें

    Nandita Srivastava

    (June 19, 2020 - 11:02 am)

    सुन्दर अभिलेख के लिए धन्यवाद
    नंदिता ( टीसा वालंटियर)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *